एडिशनल कमिश्नर, पुलिस कर्मी सहित 5 को हुआ कोरोना, अभी अभी देर रात को आई जांच रिपोर्ट

जबलपुर – मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब और आईसीएमआर की एनआईआरटीएच लैब से आज बुधवार की रात मिली जाँच रिपोर्ट में पाँच व्यक्तियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है । पॉजिटिव मिले व्यक्तियों में इंदिरा गांधी वार्ड गढ़ा निवासी 53 वर्षीय यातायात पुलिस कर्मी तथा लक्ष्मी परिसर कटंगा निवासी नगर निगम जबलपुर में अपर आयुक्त और उनके परिवार के तीन सदस्य शामिल हैं । कोरोना पॉजिटव पाये गये यातायात पुलिस कर्मी को 5 जुलाई की शाम से सांस लेने में तकलीफ और गला खराब होने शिकायत थी । वहीं नगर निगम के अपर आयुक्त उम्र 61 वर्ष के साथ परिवार के पॉजिटिव पाये गये तीन अन्य सदस्यों में 54 वर्ष की महिला एवं 63 वर्ष और 30 वर्ष का पुरुष सदस्य शामिल है । लक्ष्मी परिसर कटंगा के इस परिवार के घर पर 30 जून को वैवाहिक समारोह आयोजित किया गया था । वहीं इस परिवार के सदस्य तीन जुलाई को कटनी के अपने रिश्तेदार के परिवार की त्रिपुर सुंदरी मन्दिर में आयोजित शादी समारोह में भी शामिल हुये थे । आज पॉजिटिव पाये गये गुडलक अपार्टमेंट के सामने गुप्तेश्वरमें रहने वाले एक ही परिवार के चार सदस्य भी 30 जून को लक्ष्मी परिसर कटंगा में आयोजित समारोह में शामिल हुए थे ।

स्कूलों की मनमानी, पहले कॉपी-किताब और ड्रेस के नाम पर मची थी लूट और अब आनलाइन क्लास के नाम पर पैसों की वसूली

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।विजय नगर स्थित जॉय सीनियर सेकेण्डरी प्रबंधन द्वारा फीस के सम्बंध में मनमानी, अभिभावकों से बदसलूकी एवं शासन के निर्देशों की अवहेलना की जा रही है। यह शिकायत परेशान अभिभावकों ने विजयनगर थाना पुलिस से की है पेरेंट्स एसोसिएशन ऑफ मध्य प्रदेश के बैनर तले विजयनगर थाने पहुंचे अभिभावकों ने लिखित आवेदन पुलिस को सौंपा। जिसमें कहा गया है कि जॉय सीनियर सेकेंडरी स्कूल विजय नगर द्वारा जहां लॉकडाउन के दौरान से लेकर अभी तक लगातार अभिभावकों को फीस जमा करने के लिए परेशान किया जा रहा है तो वही ऑनलाइन क्लास के नाम पर भी पैसों की मांग की जा रही है। मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी एक निर्देश में स्पष्ट कहा गया है की कक्षा पहली से लेकर पांचवी तक कोई भी शासकीय अशासकीय स्कूल ऑनलाइन पाठ्यक्रम के आधार पर शिक्षण कार्य नहीं कराएगी। जबकि उक्त निर्देश का जॉय सीनियर सेकेंडरी स्कूल प्रबंधन द्वारा पालन नहीं किया जा रहा है। कक्षा पहली से पांचवी तक के बच्चों के लिए भी जॉय सीनियर सेकेंडरी स्कूल प्रबंधन द्वारा जॉय कनेक्ट नाम का एक ऐप बनाया गया है। शुरुआत में इस ऐप के माध्यम से कक्षा पहली से पांचवी तक के विद्यार्थियों को भी पढ़ाई कराई गई। जो अभी भी जारी है लेकिन कुछ दिनों पूर्व जॉय कनेक्ट एप अचानक बंद कर दिया गया और अभिभावकों से इस ऐप को पुनः लोड करने का दबाव स्कूल प्रबंधन द्वारा बनाया गया। जॉय कनेक्ट एप को मोबाइल पर दोबारा लोड करने पर जब ऐप ने काम नहीं किया तो अभिभावकों ने इसकी शिकायत स्कूल प्रबंधन से की कि उनके मोबाइल ऐप पर कोई भी शिक्षण सामग्री स्कूल के द्वारा प्रेषित नहीं की जा रही है। इस पर स्कूल प्रबंधन का जवाब यह है की जब तक स्कूल फीस जमा नहीं करेंगे तब तक जॉय कनेक्ट एप भी काम नहीं करेगा। फीस जमा करते ही ऐप पुनः काम करने लगेगा। ऐसे में जहां शासन के निर्देशों का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है वही शिक्षण कार्य में भी भेदभाव की नीति सरेआम अपनाई जा रही है कि जो लोग फीस जमा करने में सक्षम हैं सिर्फ उन्हें ही ऑनलाइन क्लासेस के माध्यम से पढ़ाई की सुविधा मुहैया कराई जा रही है। शेष अभिभावकों के साथ स्कूल प्रबंधन का रवैया बहुत खराब है। पैरंट्स एसोसिएशन ऑफ़ मध्य प्रदेश के पदाधिकारियों ने अब पुलिस से सहायता मांगी है। बताया जा रहा है कि विजय नगर थाना पहुंचने से पहले पेरेंट्स एसोसिएशन ऑफ मध्य प्रदेश के पदाधिकारी जॉय सीनियर सेकेंडरी स्कूल भी पहुंचे लेकिन स्कूल प्रबंधक ने सामने आने और बात करने से भी इंकार कर दिया। इसके बाद मामले की पूरी शिकायत संबंधित थाने में दर्ज कराई गई है। इस मौके पर एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष हेमंत पटेल, रंजीत बर्मन, विनीत अग्रवाल, सचिन गुप्ता, शेखर तिवारी सहित शिकायतकर्ता अभिभावकगण मौजूद रहे।

विश्विद्यालयों को परीक्षाएं कराने की केंद्रीय उच्च शिक्षा सचिव ने अनुमति दी, कहा नियमों को ध्यान में रखते हुए कराएं परीक्षा

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) देश-दुनिया। गृह मंत्रालय ने केंद्रीय उच्च शिक्षा सचिव को विश्वविद्यालयों और संस्थानों द्वारा परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति दे दी है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि विश्वविद्यालय और शैक्षिक संस्थान, स्वास्थ्य मंत्रालय के कोविड-19 (COVID-19) सुरक्षा नियमों को ध्यान में रखते हुए फाइनल परीक्षाएं आयोजित कर सकते हैं। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा, केंद्रीय उच्च शिक्षा सचिव को लिखे पत्र में गृह मंत्रालय ने आज विश्वविद्यालयों और संस्थानों को  परीक्षा आयोजित करने की इजाजत दी है. गृह मंत्रालय के मुताबिक, फाइनल ईयर की परीक्षाएं अनिवार्य होंगी और यूजीसी की गाइडलाइंस के अनुसार इन्हें आयोजित किया जाएगा. परीक्षा के दौरान स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रॉसीजर (SOP) का भी पालन करना अनिवार्य होगा। बयान में कहा गया है, ‘‘परीक्षाओं के संबंध में यूजीसी और विश्वविद्यालयों के अकादमिक कैलेंडर के दिशा-निर्देशानुसार और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा मंजूर मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुसार सालाना परीक्षाएं अनिवार्य रूप से आयोजित कराई जानी हैं। कोरोना वायरस महामारी को काबू करने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू किया गया था. देश के विश्वविद्यालयों एवं अन्य शिक्षण संस्थाओं द्वारा आयोजित विभिन्न परीक्षाएं मार्च से टाली जा रही थीं। देश में अनलॉक चरणों के दौरान निरुद्ध क्षेत्रों को छोड़कर सभी इलाकों में कई गतिविधियों की अनुमति दे दी गई है, लेकिन स्कूलों, महाविद्यालयों, विश्वविद्यालयों और अन्य अकादमिक संस्थानों का नियमित संचालन शुरू नहीं हुआ है।

Weather Update : मध्य प्रदेश के इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के उज्जैन, भोपाल, सागर संभाग के जिलों के साथ होशंगाबाद, बैतूल, इंदौर, धार, खरगोन, गुना, अशोकनगर, श्योपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, नरसिंहपुर, जबलपुर, रीवा और सतना जिले में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पिछले 24 घटों के दौरान मध्य प्रदेश के रीवा, शहडोल, सागर सम्भागों के जिलों में अनेक स्थानों पर, जबलपुर एवं भोपाल संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर तथा शेष संभागों के जिलों में कही कही वर्षा दर्ज की गई। लांजी में 9, बक्सवाहा में 8, हटा में 7, मेहगांव में 5, मैहर, बुढार, मुलताई और आष्टा में 4, अमरवाडा, पाढुंर्ना, माडा, अनूपपुर, रीवा, तेदूखेडा, पथरिया, बिछिया नरसिंहगढ, ग्यारसपुर, सीहोर में 3, अटनेर, शाहपुर, बैतूल, बेगमगंज, उमरेह, निवाड़ी और नागपुर 2 सेमी वर्षा दर्ज की गई।

गुजरात, उप्र और राजस्थान पर ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। साथ ही बंगाल की खाड़ी में भी एक चक्रवात बन गया है। इससे मप्र में बारिश की गतिविधियां बढ़ने के आसार हैं। मौसम विज्ञानियों ने रविवार को रीवा, शहडोल और सागर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं तेज बौछारें पड़ने की संभावना जताई है। उधर शनिवार को सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक रीवा में 27, गुना में 9 मिमी. बरसात हुई। छिंदवाड़ा और भोपाल में बूंदाबांदी हुई।

मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में दक्षिण उड़ीसा और उत्तरी आंध्रप्रदेश के आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इस सिस्टम के सोमवार को आगे बढ़ने की संभावना है। इसके प्रभाव से उत्तरी मप्र में अच्छी बरसात हो सकती है। उधर दक्षिण गुजरात, पूर्वी उप्र और राजस्थान पर बने ऊपरी हवा के चक्रवात के कारण मिल रही नमी से प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में गरज-चमक के साथ बरसात हो रही है। नमी की मौजूदगी के कारण रविवार को रीवा, शहडोल और सागर संभाग के जिलों में बरसात होने के आसार हैं। शुक्ला के मुताबिक प्रदेश में लगातार बारिश होने की संभावना फिलहाल नहीं है।

अवैध बम फैक्ट्री में धमाका, आठ की मौत और 20 से अधिक घायल

दिल्ली से सटे गाजियाबाद से इस वक्त एक बड़ी खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि एक अवैध बम फैक्ट्री में बड़ा धमाका हो गया है। शहर के मोदीनगर स्थित फैक्ट्री में हुए धमाके में कम से कम 8 लोगों की मौत हो गई है और 20 से ज्यादा लोग घायल हैं।