Google Meet को जल्द मिलने वाला है नया फीचर, वीडियो कॉल के दौरान बैकग्राउंड कर सकेंगे ब्लर

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप की मांग तेजी से बढ़ी है। यही वजह है कि सर्च इंजन कंपनी गूगल अपने लोकप्रिय वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म गूगल मीट के लिए लगातार नए-नए फीचर्स पेश करती आ रही है। इस कड़ी में अब कंपनी एक ऐसा फीचर जल्द जारी करने वाली है, जिससे वीडियो कॉल के दौरान यूजर का बैकग्राउंड अपने-आप ब्लर हो जाएगा। इस बात की जानकारी 9to5 रिपोर्ट से मिली है। हालांकि, कंपनी ने अभी तक इस फीचर को लेकर आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की है। 

9to5Google की रिपोर्ट के मुताबिक, एक APK फाइल सामने आई है, जिससे जानकारी मिली है कि गूगल एक ऐसे फीचर पर काम कर रहा है, जो वीडियो कॉल के दौरान अपने-आप यूजर के बैकग्राउंड को ब्लर कर देगा। साथ ही इस फीचर को गूगल मीट 41.5 वर्जन पर स्पॉट किया गया है। हालांकि, एंड्रॉयड यूजर्स को अब तक इस फीचर का सपोर्ट नहीं मिला है। उम्मीद की जा रही है कि गूगल इस फीचर को जल्द जारी करेगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट टीम और जूम जैसे वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग एप पहले ही अपने यूजर्स के लिए बैकग्राउंड ब्लर करने वाले फीचर्स पेश कर चुके हैं। इसके अलावा गूगल डुओ के प्लेटफॉर्म पर भी पोर्ट्रेट मोड उपलब्ध है, जो वीडियो कॉल के दौरान बैकग्राउंड को ब्लर करता है। गूगल ने पिछले महीने ही जी-मेल प्लेटफॉर्म पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप गूगल मीट को उपलब्ध कराया था। कंपनी के इस कदम से अब यूजर्स के लिए वीडियो कॉल करना बेहद आसान हो गया है।

ऐसे करें जी-मेल पर गूगल मीट का उपयोग
यूजर्स को जी-मेल के साइडबार में गूगल मीट का ऑप्शन दिखाई देगा। इसपर टैप करने पर यूजर्स को ‘join a meeting’ या ‘start a meeting’ के दो विकल्प दिखाई देंगे। अब यूजर्स को अपनी सुविधानुसार इनमें से किसी एक ऑप्शन को चुनना होगा। जैसे ही यूजर्स किसी एक विकल्प पर टैप करेंगे, तो उनके सामने एक नई विंडो ओपन होगी। यहां वह आसानी से वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग कर पाएंगे।

Facebook ने खास फीचर किया लॉन्च, अब यूजर्स अपनी प्रोफाइल कर सकेंगे लॉक

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक (Facebook) ने भारतीय यूजर्स के लिए एक खास फीचर लॉन्च किया है, जिसका नाम प्रोफाइल लॉक है। इस फीचर के जरिए भारतीय यूजर्स अपनी फेसबुक प्रोफाइल को लॉक कर सकेंगे। इस फीचर की खास बात है कि यूजर की प्रोफाइल मौजूदा दोस्तों के अलावा कोई भी अन्य यूजर्स नहीं देख पाएंगे। वहीं, कंपनी का कहना है कि अगले हफ्ते से भारतीय यूजर्स इस फीचर का उपयोग कर सकेंगे। 

फेसबुक प्रोफाइल लॉक फीचर
फेसबुक का लेटेस्ट फीचर बेहद शानदार है। इस फीचर के एक्टिवेट होने से कोई भी अन्य फेसबुक यूजर आपकी प्रोफाइल फोटो को ही देख पाएगा। इसके अलावा यूजर्स आपके अकाउंट से शेयर किए गए पोस्ट को भी नहीं देख पाएंगे। हालांकि, आपकी प्रोफाइल में जो यूजर्स जुड़े हैं, वह ही उस पोस्ट को देख सकेंगे।

प्रोफाइल पिक्चर गार्ड फीचर को किया था लॉन्च
आपको बता दें कि फेसबुक ने इससे पहले प्रोफाइल पिक्चर गार्ड फीचर को लॉन्च किया था। इस फीचर के जरिए आप अपनी प्रोफाइल फोटो को सुरक्षित रख सकते हैं। इस फीचर के एक्टिवेट होने से फेसबुक के अन्य यूजर्स आपकी प्रोफाइल फोटो को डाउनलोड या फिर उसे कहीं भी शेयर नहीं कर पाएंगे।

कम डाटा से काम नहीं हो रहा पूरा तो ये प्री-पेड प्लांस हैं आपके लिए, रोज मिलेगा 2GB से लेकर 4GB तक डाटा

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ)। भारत में लॉकडाउन चल रहा है, ऐसे में ज्यादातर लोग अपने घरों से ऑफिस का काम कर रहे हैं। यही वजह है कि डाटा की खपत और मांग तेजी से बढ़ी है। साथ ही कई मीडिया रिपोर्ट भी सामने आई हैं, जिनसे जानकारी मिली है कि अधिकतर लोग दफ्तर का काम करने के लिए मोबाइल डाटा का उपयोग ब्रॉडबैंड की तुलना में ज्यादा कर रहे हैं। तो आज हम आपको जियो, एयरटेल और वोडाफोन के कुछ खास प्री-पेड प्लान के बारे में बताएंगे, जिनमें आपको प्रतिदिन 2GB से लेकर 4GB तक डाटा मिलेगा।

जियो का 444 रुपये वाला प्लान
उपभोक्ताओं को इस प्लान में प्रतिदिन 2 जीबी डाटा के साथ 100 एसएमएस मिलेंगे। साथ ही कंपनी यूजर्स को कॉलिंग के लिए 2,000 नॉन-जियो मिनट देगी। हालांकि, यूजर्स जियो-टू-जियो नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग कर सकेंगे। इसके अलावा यूजर्स को मुफ्त में जियो के प्रीमियम एप्स का सब्सक्रिप्शन भी मिलेगा। वहीं, इस पैक की वैधता 56 दिनों की है।

वोडाफोन का 299 रुपये वाला प्लान
वोडाफोन का यह रिचार्ज प्लान खास है, क्योंकि इसमें यूजर्स डबल डाटा ऑफर मिलेगा। इसका मतलब है कि कंपनी यूजर्स को प्रतिदिन 2 जीबी डाटा के साथ अतिरिक्त 2 जीबी डाटा (कुल 4 जीबी डाटा) देगी। साथ ही यूजर्स किसी भी नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग कर सकेंगे। इसके अलावा यूजर्स को मुफ्त में वोडाफोन प्ले और जी5 एप की सब्सक्रिप्शन मिलेगी। वहीं, इस पैक की समय सीमा 28 दिनों की है। View More

मीडिया के क्षेत्र में कैरियर बनाने रादुविवि में प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। मीडिया के क्षेत्र में कैरियर बनाने के इच्छुक विद्यार्थितयों के लिए रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय द्वारा ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया 15 मई से शुरू हो गई हैं। जिसके अंतर्गत विश्वविद्यालय के संचार एवं शोध विभाग (पत्रकारिता विभाग) में भी ऑनलाइन प्रवेश प्रारंभ हैं। प्रवेश के लिए विद्यार्थियों को किसी भी स्ट्रीम की बाध्यता नही होती हैं। 12वीं और स्नातक उतीर्ण विद्यार्थी प्रवेश ले सकते हैं।

इन कॉर्सो पर मिल रहा ऑनलाइन प्रवेश

  1. बी.ए. मास कम्युनिकेशन (03 वर्ष)
  2. एम.ए. मास कम्युनिकेशन (02 वर्ष)
  3. बी.जे.सी (01 वर्ष)
  4. एम.जे.सी (02 वर्ष)

यह कोर्स विभाग द्वारा संचालित किए जा रहे हैं। विश्वविद्यालय अपने यहाँ के छात्रों के लिए कैंपस प्लेसमेंट की सुविधा उपलब्ध कराता हैं। पत्रकारिता के क्षेत्र में सफल होने के लिए विषय की सूक्ष्म जानकारी होना अतिआवश्यक होता हैं। तभी इस क्षेत्र में सफलता प्राप्त की जा सकती हैं। पत्रकारिता विभाग के विद्यार्थी वर्तमान में अकादमिक, राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय स्तर पर सफलतापूर्वक अपना परचल लहरा रहे हैं। ऑनलाइन प्रवेश के लिए विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.rdunijbpin.org पर जाकर किया जा सकता हैं।

वहीं विभागाध्यक्ष प्रो. धीरेन्द्र पाठक ने बताया कि छात्रों के लिए यह स्वर्णिम अवसर हैं। जिसमें इच्छुक विद्यार्थी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया, जनसंपर्क जैसी फील्ड पर अपनी सेवाएं दे सकते हैं। कैंपस प्लेसमेंट के मामले में संचार अध्ययन एवं शोध विभाग का रिकॉर्ड भी शानदार रहा हैं।

 

चहल ने अरेंज मैरिज को लेकर मांगे टिप्स, तो युवराज ने दिया रिएक्शन, बोले- मत कर, वरना बीवी से मार खानी होगी…

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। जब से कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) है तब से लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं. चहल ने तो इस दौरान टिकटॉक वीडियो (TikTok)  भी बनाना शुरू कर दिया है. हाल ही में रोहित शर्मा ने सुरेश रैना के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव चैट की, उस दौरान चहल दोनों खिलाड़ियों से अरेंज मैरिज की टिप्स मांगते नजर आए. चहल ने दोनों की लाइव वीडियों में कमेंट कर अरेंज मैरिज की बात करने के लिए कहा और लिखा कि, क्या आप हमें अरेंज मैरिज की कुछ टिप्स दे सकते हैं. हालांकि रोहित-रैना ने चहल के इस बात को नहीं सुना और अपनी बात करते रहे, लेकिन दूसरी ओर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने चहल के इस सवाल पर अपना रिएक्शन दिया. अपने जवाब में युवी ने रोहित और रैना की टांग खिंचाई भी की. युवी ने चहल के लिए अरेंज मैरिज को लेकर कमेंट किया और लिखा, ‘मत कर चहल, रैना और हिट मैन जैसे गाल हो जाएंगे बीवी से मार खाकर’.

युवी के इस सवाल ने फैन्स का भी दिल जीत लिया है. गौरतलब है कि हाल के दिनों में क्रिकेटर्स इंस्टाग्राम पर लाइव चैट के जरिए अपने समय को बिता रहे हैं. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने रैना (Raina) के साथ चैट में धोनी (Dhoni) को लेकर भी सवाल पूछे थे. रोहित ने कहा था कि यदि रैना फिट हैं तो उनको यकीनन भारतीय टीम में वापस आना चाहिए. बता दें कि साल 2019 वर्ल्डकप के बाद से धोनी भारतीय टीम से बाहर हैं.

उम्मीद थी कि आईपीएल में खेलकर धोनी एक बार फिर टी-20 वर्ल्डकप में भारतीय टीम का हिस्सा रहेंगे. लेकिन दुर्भाग्य से COVID-19 के कारण आईपीएल को स्थगित कर दिया गया है. वहीं, रैना ने धोनी को लेकर कहा है कि सीएसके के कैंप में माही भाई की फिटनेस लाजवाब थी और वो बल्लेबाजी भी बेहतरीन कर रहे हैं. उनके अंदर काफी क्रिकेट बची हुई है.

भारत में Covid-19 संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 90927 पर पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की ओर से रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 2872 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 90927 हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4987 नए मरीज़ मिले हैं और 120 लोगों की जान गई है l

12 राज्यों के इन 30 शहरों में जारी रह सकता है सख्त लॉकडाउन, जानिए कौन-कौन हैं शामिल

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। देश में कोरोना का कहर अब भी लगातार जारी है। रोजाना 3000 से अधिक मामले आ रहे हैं। इन बढ़ते मामलों के मद्देनजर लॉकडाउन 4.0 में 30 जिलों और नगरपालिका क्षेत्रों में कोई राहत मिलने के आसार नहीं हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने वरिष्ठ अधिकारियों और जिलाधिकारियों के साथ एक बैठक की, जिनमें इन जिलों की समीक्षा की गई।

सूत्रों का कहना है कि इन जिलों में लॉकडाउन के चौथे चरण में भी कोई राहत नहीं दी जाएगी। क्योंकि, सरकार ने कोरोना हॉटस्पॉट क्षेत्रों के लिए जो दिशा-निर्देश तैयार किए हैं, उनमें अत्यंत संक्रमण वाले क्षेत्रों में इस महामारी की रोकथाम के लिए सख्ती बरतने की बात कही गई है।
इन 30 नगरपालिका क्षेत्रों में दिल्ली, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पंजाब और ओडिशा राज्य के इलाके शामिल हैं। बैठक के दौरान जिलों में कोरोना की वर्तमान स्थिति का लेखा-जोखा तैयार किया गया जिसमें संक्रमण पुष्टि दर, घातक दर, दोगुनी दर, प्रति 10 लाख पर परीक्षण आदि तथ्यों पर रोशनी डाली गई है। यहां जानिए इन राज्यों में कौन-कौन से 30 शहरों को शामिल किया गया है।

तमिलनाडु- कुड्डालोर, चेंगलपट्टू, अरियालुर, विल्लुपुरम, तिरुवल्लूर और ग्रेटर चेन्नई
महाराष्ट्रमुंबई, औरंगाबाद, पुणे, पालघर, सोलापुर, नासिक और ठाणे
गुजरात- अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत
दिल्ली- अधिकतर इलाके
मध्यप्रदेश- भोपाल और इंदौर
पश्चिम बंगाल- हावड़ा और कोलकाता
राजस्थान- जयपुर, जोधपुर, उदयपुर

उत्तर प्रदेश-  आगरा और मेरठ
आंध्र प्रदेश- कुरनुल
तेलंगाना- ग्रेटर हैदराबाद
पंजाब- अमृतसर
ओडिशा- बरहमपुर

बता दें कि देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 85,940 हो गई है, जिनमें 53,035 सक्रिय हैं, 30,153 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और 2752 लोगों की मौत हो चुकी है।

 

 

रानी दुर्गावती विवि की लापरवाही, छात्रा पर पड़ी भारी

पत्रकारिता विभाग की छात्रा के वाहन पर असमाजिक तत्वों ने की तोड़-फोड़

इंडिया डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर अंतर्गत पत्रकारिता विभाग में अध्ययनरत् छात्रा प्रज्ञा मिश्रा ने बताया कि वह विश्वविद्यालय के कौशल विकास विभाग में परीक्षा देने आई थी। वाहन स्टैंड में वाहन खड़ा करने के पश्चात असमाजिक तत्वों द्वारा वाहन में तोड़-फोड़ कर दी गई। जिसकी शिकायत की गई हैं। 

बिना कैमरे व चौकीदार के विभागों के वाहन स्टैंड

दिलचस्प बात यह हैं कि किसी भी विभाग के वाहन स्टैंड में कैमरे और वाहन की देखभाल करने की कोई व्यवस्थता ही नही हैं। तोड़-फोड़, चोरी आदि घटनाएँ होने के बाद भी विश्वविद्यालय द्वारा किसी भी प्रकार का ठोस कदम नही उठाया जा रहा हैं। जिसका खामियाजा छात्र-छात्राओं को भुगतना पड़ता हैं।

रादुविवि के प्रंबध संस्थान विभाग का परिचय समारोह संपन्न

इंडिया 2डे न्यूज़ पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के प्रबंध संस्थान विभाग द्वारा प्रथम वर्ष में प्रवेश छात्रों का परिचय समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रबंध संस्थान के विभागाध्यक्ष डॉ. शैलेष कुमार चौबे रहे। परिचय समारोह कार्यक्रम में डॉ चौबे ने छात्रों को संबोधित कर परिचय शब्द की व्याख्या कर विद्यार्थी जीवन के महत्व को बताया साथ ही छात्रों को शुभकामनाएं दी। संबोधन उपरांत विभाग के छात्रों ने नृत्य की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में मुख्य रूप से विभाग के प्रोफेसर डॉ आशीष शर्मा, डॉ. रजनी शर्मा आदि उपस्थित रहे। आयोजन को सफलतापूर्वक करानें में बीकॉम व एमबीए के संयुक्त छात्रों सहित निकेत मिश्रा, ईशा शिवहरे, वैशाली, साकेत सोनकर और जय की अहम भूमिका रहीं।

जबलपुर शहर को टॉप-5 में लाने कलेक्टर ने भरी हुंकार,स्वच्छता सर्वेक्षण 20-20 की कलेक्टर स्वयं करेंगे निगरानी

इंडिया 2डे न्यूज पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में अव्वल पांच शहरों में शामिल कराने के लक्ष्य को लेकर आज कलेक्टर श्री भरत यादव ने नगर निगम सहित सभी विभागों के जिला अधिकारियों की बैठक ली और हर हाल में इसे प्राप्त करने के निर्देश दिये हैं । श्री यादव ने कहा कि जबलपुर शहर अच्छा है शहरवासी भी अच्छे हैं बस जरूरत इस शहर को साफ-सुथरा बनाने की है जिसे सभी को मिलजुलकर संकल्प के साथ पूरा करना होगा ।
श्री यादव ने बैठक में अधिकारियों से कहा है कि शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने की जिम्मेदारी सभी को लेनी होगी इसलिए नगर निगम के साथ-साथ अब अपर कलेक्टरों समेत सभी विभागों के जिला अधिकारियों को भी इससे जोड़ा जा रहा है । उन्होंने बताया कि शहर की सफाई व्यवस्था पर निगरानी रखने के लिए विस्तृत योजना बनाई गई है और नगर निगम के प्रत्येक जोन पर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के नेतृत्व में दल का गठन किया गया है । ये अधिकारी प्रतिदिन सुबह 6 बजे अपने नियत स्थान पर पहुंचेंगे और साफ-सफाई व्यवस्था पर निगरानी रखेंगे, स्थानीय रहवासियों से मिलेंगे, उनसे फीडबैक प्रापत करेंगे तथा डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन व्यवस्था की मॉनीटरिंग भी करेंगे ।
श्री यादव ने दल प्रभारी बनाये गये सभी अधिकारियों से कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत सौंपी गई जिम्मेदारियों का उन्हें पूरी गंभीरता से निर्वाह करना होगा । जो अधिकारी इस काम में रूचि नहीं लेंगे उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी ।
कलेक्टर ने कहा वो खुद प्रतिदिन डेढ़ से दो घंटे शहर को साफ-सुथरा बनाने में अपना समय देंगे । उन्होंने डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन में गीले और सूखे कचरे को अलग-अलग संग्रहण पर जोर दिया । उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण का यह आधार है और इसमें यह शहर पिछड़ रहा है । उन्होंने कहा कि नागरिकों को भी इस बारे में समझाईश देना होगा कि वे गीले और सूखे कचरे को अलग-अलग रखें ।
श्री यादव ने शहर को व्यवस्थित और साफ-सुथरा बनाने के कार्य में आम जनता की भागीदारी भी सुनिश्चित करने पर बल दिया । उन्होंने कहा कि इस कार्य में जनप्रतिनिधियों, सामाजिक, स्वैच्छिक एवं व्यापारिक संगठनों को भी भागीदार बनाना चाहिए । श्री यादव ने कहा कि नागरिकों को जागरूक और उनकी सक्रिय भागीदारी के बगैर लक्ष्य को प्राप्त करना कठिन होगा ।
कलेक्टर ने बैठक में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन में लगे सभी वाहनों में तीन दिन के भीतर जीपीएस लगाने के निर्देश दिये हैं । उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन और मॉनीटरिंग के लिए सभी अधिकारियों को जियोफेन्सिंग की जाये । उन्होंने जोनवार बनाये गये स्वच्छता दलों में शामिल अधिकारियों-कर्मचारियों की मॉनीटरिंग पर भी जोर दिया।
श्री यादव ने कहा कि स्वच्छता दल के प्रभारी अधिकारियों के सहयोग के लिए नगर निगम के जोन प्रभारी, संभाग प्रभारी, स्वच्छता निरीक्षक और सफाई कर्मियों को भी तैनात किया गया है । उन्होंने कहा कि दल में शामिल इन अधिकारियों-कर्मचारियों को भी प्रतिदिन सुबह अपने तय स्थानों पर एकत्र होना होगा ।
श्री यादव ने कहा कि जबलपुर को स्वच्छता सर्वेक्षण में टॉप पांच शहरों में शामिल कराना हमारे लिए बड़ी चुनौती है लेकिन विश्वास है कि सभी के मिलेजुले और समन्वित प्रयासों से इस चुनौती से पार पाया जा सकता है । यह कोई कठिन काम नहीं है ।
कलेक्टर ने कहा कि शहर को साफ-सुथरा बनाने नागरिकों को भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए । किसका घर, कौन-सा क्षेत्र सबसे ज्यादा साफ-सुथरा है इसके लिए प्रतियोगितायें आयोजित की जायें और अच्छा काम करने वालों को पुरस्कृत किया जाये । श्री यादव ने जोनवार बनाये गये स्वच्छता दल के काम की रैकिंग भी होगी और अच्छा परफार्मेंस देने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को प्रोत्साहित भी किया जायेगा।

 

शहर की “तीसरी आँख” से भी रखी जा ही नजर…

आईटीएमएस के माध्यम से मुख्य तिराहों- चौराहों पर नजरें

इंडिया 2डे न्यूज पोर्टल (आपके साथ) जबलपुर। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद जबलपुर स्मार्ट सिटी द्वारा संचालित आईटीएमएस के माध्यम से चंडालभाटा स्थित कार्यालय से समस्त मुख्य तिराहों व चौराहा पर टीमों  ने अपनी नजरे रखी हुई हैं। वहीं यातायात संबंधी नियमों को तोड़ने व शहर में लगी धारा 144 का उल्लंघन न करने की भी सूचना वाहन चालकों को दी जा रही हैं। शहर में शांति व्यवस्था कायम हैं। व शहर के लोग प्रशासन के आदेशो का पालन सख्ती से कर रहे है। इस दौरान सहायक आयुक्त संभव आयाची, बालेन्दु शुक्ला, गजेंद्र वैश्य उपस्थित रहे।