मुसाफिरों के लिए स्नेह का भोजन, नेशनल हाईवे 7 बरगी पर लगातार चल रहा भोजन वितरण

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।बरगी नगर l भूखे को भोजन और प्यासे को पानी शायद इससे बेहतर और कोई सेवा नहीं कुछ इसी तर्ज पर बरगी नगर की सच्चा प्रयास संस्था द्वारा लगातार पिछले 1 हफ्ते से भी ज्यादा समय से मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी बरगी बांध पावर हाउस की मदद से गरीब मजदूर मुसाफिरों को भोजन कराकर कृतार्थ किया जा रहा है तन मन धन सेवा में लगे संस्था के संरक्षक सत्येंद्र समाधिया तथा डॉक्टर दीप्ति समाधिया का कहना है कि जब तक राष्ट्रीय राजमार्ग से मजदूरों एवं मुसाफिरों का आना जाना रहेगा तब तक यह भोजन खिलाने का क्रम हम जारी रखेंगे।

भोजन पाकर खिले चेहरे ——
तमिलनाडु, चेन्नई ,आंध्र प्रदेश, हैदराबाद, तेलंगाना, बिहार, उत्तर प्रदेश, से सफर कर रहे मजदूरों ने बताया कि वह हजारों किलोमीटर दूर से बहुत परेशान होकर चल रहे हैं और रास्ते में मध्यप्रदेश शुरू होने के बाद ही कुछ जिलों में खाने पीने की व्यवस्था पाकर वे बहुत प्रसन्न है उन्हें इस बात की पीड़ा है कि वे जिस कंपनी में काम करते थे उनके मालिकों ने उनके साथ बुरा व्यवहार किया और बे खाने पीने से तक वंचित हो गए पर सड़क पर जिन्हें कोई जानता पहचानता तक नहीं उनके द्वारा इतना अपनापन और सेवा भाव देखकर हम सभी भाव विभोर हो गए हैं सच्चा प्रयास संस्था के संचालक परवेज खान, महेश भूमिया, सत्येंद्र समाधिया, सतीश तिवारी, संदीप सुनारिया आर एस ठाकुर, विवेक तिवारी, राजेश सेन, पवन वर्मा, हेमंत ठाकुर, केएल चंदेल, वीके श्रीवास्तव, नितेश विश्वकर्मा, आर जी लोहार दिनेश बोरखड़े, मनीष तिवारी, जित्तू झारिया सूर्यभान चंदेल दुर्गेश पनिका मयंक मिश्रा डीएस परिहार, दिनेश राजपूत शिवकुमार काछी शानू खान परमानंद कटिया कनिका मजेदार कीर्ति चक्रवर्ती अर्चना मिश्रा, बबलू मंसूरी, शिवकुमार काछी, शानू खान, तथा धनेंद्र पटेल, सभी सदस्यों का भरपूर सहयोग मिल रहा है।

दीन दुखियों का दर्द दूर करना ही ईश्वर की सच्ची आराधना, मेडिकल कॉलेज के छात्र कर रहे प्रवासियों की सेवा

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर। कोरोना संकटकाल में विपरीत परिस्थितियों में दीन दुखियों की सेवा कर उनके आंसू पोछना ही ईश्वर की सच्ची आराधना है, इसी आराधना को चरितार्थ करते हुए मेडिकल कॉलेज के छात्र इन दिनों अस्पतालों के साथ-साथ प्रवासियों की मदद कर रहे हैं और उनके लिए सड़क पर भोजन व पानी सहित अन्य की व्यवस्था करवा रहें हैं।


यह छात्र विगत कई दिनों से सेवा कार्यों में लगे हुए हैं, जिसमें उनके द्वारा महाराजपुर बाईपास कटनी रोड जबलपुर राधा स्वामी सत्संग न्यास के बाजू से एन.एम.ओ (नेशनल मेडिकोज आर्गेनाइजेशन) के माध्यम से अभियान घर की ओर के तहत प्रवासी मजदूरों को पानी , बिस्कुट , छाछ और भोजन में खिचड़ी का वितरण किया गया जा रहा है, वहीं उनको साबुन और ठंडाई भी बाँटे जा रहें हैं, इस दौरान प्रमुख रूप से डॉ.शुभांशु शर्मा , डॉ.अनिष्क अग्रवाल , डॉ. शालीन श्रीवास्तव, डॉ. गौरव दुबे वहीं महाराजपुर क्षेत्र से सुनील शर्मा, अमित मिश्रा, अरुण झा एवं आयुष झा का सहयोग सराहनीय रहा। इसके अलावा इस कार्य में खाद्यानपूर्ती के सहयोगी गायत्री परिवार एवं शिव कुमार तिवारी का महत्वपूर्ण भूमिका रही।

 

यादव महासभा द्वारा चलित वाहन से भोजन व्यवस्था, मिटा रही भूख व प्यास

यादव महासभा द्वारा चलित वाहन से भोजन व्यवस्था, मिटा रही भूख व प्यास

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा जबलपुर के तत्वाधान में अन्य जिलों से आए प्रवासी लोगों के लिए जल एवं भोजन की व्यवस्था राजमार्ग क्रमांक 7(सात) मे की गई। जिसमें बाहर से आय लोगों को भोजन एवं पानी की व्यवस्था महासभा द्वारा कराई गई। इस अवसर पर यादव महासभा के प्रदेश महामंत्री सुभाष यादव,प्रदेश महामंत्री विजय यादव,महिला जिला अध्यक्ष श्रीमती विनीता यादव,जिला अध्यक्ष राजेश यादव,शहर अध्यक्ष संजय यादव,प्रदेश सचिव भाई सुनील यादव डॉक्टर योगराज यादव नदीश यादव शुभम यादव गोलू तिवारी एवं यादव महासभा के विक्रम यादव सन्तोष यादव लकी यादव एवं अन्य सदस्य उपस्थित थे।

डॉक्टर को दी गई नसीहत, न करें ऐसा काम, वरना शासन द्वारा की जाएगी सख्त कार्यवाही

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय से बी ए एम एस और होम्योपैथिक , यूनानी विषय में उपाधि प्राप्त एवं भोपाल बोर्ड से पंजीकृत योग्यताधारी अनेक बी. ए. एम. एस. और बी. एच. एम. एस., बी. यू. एम. एस. चिकित्सकों द्वारा अपनी चिकित्सा पद्धति में दवाएं लिखने के स्थान पर उसकी आड़ में एलोपथी में दवाएं लिखने और उन दवाओं से मरीजों को नुकसान होने सम्बन्धी शिकायतें मिल रही हैं। ऐसा करना गैरकानूनी है। आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक चिकित्सकों के द्वारा ऐसा करने से उनका पंजीयन निरस्त हो सकता है।
मुख्य चिकितसा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष मिश्रा ने कहा है कि कोरोना महामारी के संक्रमण काल में अनेक आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक, यूनानी चिकित्सकों के द्वारा सर्दी जुखाम बुखार आदि का एलोपैथिक पद्धति से इलाज किये जाने सम्बन्धी शिकायतें प्राप्त हुई हैं । इससे कोरोना मरीज की शीघ्र जाँच में देरी होती है। इसके अलावा कई बी ए एम एस और बी. एच. एम. एस., बी. यू. एम. एस. चिकित्सक अपने क्लीनिक का पंजीयन भी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में कराये बिना ही चिकित्सा व्यवसाय कर रहे हैं, जो की गैरकानूनी है। वे शीघ्र ही अपने दवाखाने का पंजीयन सम्बन्धी कार्रवाई पूर्ण कर लें। आधुनिक चिकित्सा पद्धति के अतिरिक्त वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति में शासन से मान्यता प्राप्त संस्था से आयुर्वेद, होमियोपैथ, यूनानी आदि मान्य चिकित्सा पद्धति में उपाधिधारी आयुष डाक्टर वास्तविक या मान्य डाक्टर की श्रेणी के अन्तर्गत आते हैं । फर्जी या झोलाछाप की नहीं। किन्तु इन्हें क्लीनिक खोलकर चिकित्सा व्यवसाय करने के पूर्व संबंधित चिकित्सा परिषद और सीएमएचओ कार्यालय में पंजीयन कराना अनिवार्य होता है। मप्र राजपत्र 19 जून 2003 के अनुसार ऐसे व्यक्ति जिन्होंने आयुर्वेद के साथ मार्डन मेडीसन एन्ड सर्जरी अर्थात इंटीग्रेटेड बी.ए.एम.एस. उपाधि प्राप्त की है, सिर्फ वे ही आधुनिक चिकित्सा पद्धति एलोपैथी में उतने स्तर पर चिकित्सा कार्य कर सकते हैं, जितना की उन्होंने प्रशिक्षण प्राप्त किया है। इनको छोड़ कर शेष बी. ए. एम. एस. चिकित्सक एलोपैथी में चिकित्सा व्यवसाय नहीं कर सकते हैं।

जिसका कोई नहीं उसका तो खुदा है यारो… बस ऐसे ही कुछ फरिश्ते मजबूरों के पोंछ रहें हैं आंसू

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।बरगी नगर l बरगी नगर की सच्चा प्रयास एक अभियान संस्था द्वारा एमपीईबी बरगी बांध विद्युत गृह के अधिकारियों कर्मचारियों की मदद से विगत 10 दिनों से राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 7 से गुजरने वाले हजारों प्रवासी मजदूरों को सुकरी मंगेला चेकपोस्ट, बहोरी पार टोल प्लाजा एवं बरगी मैं रोक कर लगातार सुबह का चाय नाश्ता, पानी दोपहर का भोजन एवं खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है अब तक लगभग 5000 से ज्यादा मजदूरों को भोजन कराया जा चुका है संस्था के डायरेक्टर परवेज खान, बबलू मंसूरी तथा सत्येंद्र समाधिया ने जानकारी देते हुए बताया कि यह मजदूर बड़ी संख्या में लगातार तेलंगाना महाराष्ट्र चेन्नई कर्नाटक हैदराबाद बिहार उत्तर प्रदेश एवं अन्य स्थानों के लिए सफर कर रहे हैं रास्ते पर भोजन पानी एवं अन्य खाद्य सामग्री पाकर इन सभी के चेहरे प्रसन्नता से खिल जाते हैं l

 

जन जागरूकता भी —

संस्था के सदस्य धनेंद्र कुमार तथा दिनेश राजपूत ने बताया कि संस्था द्वारा लगातार मजदूरों को सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने की सलाह हाथ धोने की सलाह एवं आपातकालीन टोल फ्री नंबरओं की जानकारी भी दी जाती है जिससे वे किसी समस्या के लिए फोन लगाकर सहायता प्राप्त कर सकते हैं उक्त कार्य को एसके समाधिया, एसके तिवारी,संदीप सुनरया,अब्दुल अजीज खान,राजेश सेन,महेश भूमिया,हेमंत ठाकुर,पवन वर्मा,नीतीश विश्कर्मा,दिनेश बोरखडे,
डी.एस.परिहार,प्रह्लाद नागवंशी,दुर्गेश पनिका,मयंक मिश्रा आर जी लोहार तथा शिव कुमार काछी की मदद से यह कार्य किया जा रहा है

रजक धोबी समाज ने सौंपा कलेक्टर के नाम ज्ञापन, कलेक्टर से कहा परिवार चलाने में हो रही परेशानी, आर्थिक मदद की मांग

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर। कोरोना वॉयरस के कारण लॉक डाउन के चलते सभी रजक धोबी समाज के लोगों पर आर्थिक संकट आन पड़ा है। जिसको लेकर अखिल भारतीय धोबी महासंघ के द्वारा कलेक्टर के नाम एक पत्र सौंपा गया। पत्र के माध्यम से उन्होंने बताया कि धोबी रजक समाज के लोग कपड़ों की धुलाई और प्रेस का काम करके अपना व अपने परिवार का पालन-पोषण करते थे, जो एक मात्र उनकी जीविका साधन था, लेकिन अब उनके पास कोरोना संकटकाल के चलते कुछ भी नहीं बचा है, जिससे उनको अपना-अपना परिवार चलाने में संकट का सामना करना पड़ रहा है, इस स्थिति में उन्हें कई तरह की परेशानियां भी उठानी पड़ रही है, जिसको लेकर उन्होंने प्रशासन से आर्थिक मदद की अपील की है, ताकि ऐसा परिवार इस संकटकाल के दौरान अपना परिवार चला सके। इस मौके पर डॉ रमेश रजक, आरडी रजक, बल्देव रजक, भगवत रजक, ओमकार रजक, संतोष रजक, जितेन्द्र रजक, नारायण रजक, छुन्ना रजक, मनोहर रजक, जितेन्द्र रजक आदि मौजूद रहे।

गोकुल रसोई रोजाना कर रही पीडि़त मानवता की सेवा, हर एक जरूरतमंदों को पहुंचा रही भोजन

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर। रांझी गोकुल रसोई के द्वारा कोरोना संकटकाल के दौरान लगातार पीडि़त मानवता की सेवा के लिए कार्य किया जा रहा है। जिसके तहत हर जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध करवाने से लेकर उनको अपने-अपने घर पहुंचाने का भी प्रयास किया जा रहा है। लॉक डाउन के चलते 52 दिनों से सभी के सहयोग से दीन दुखियों की सेवा उन्हें भोजन उपलब्ध करवाकर की जा रही है। इस कार्य को रांझी गोकुल रसोई के नाम से काम किया जा रहा है। रांझी गोकुल रसोई में अनेक धार्मिक और सामाजिक संगठनों का सहयोग प्राप्त हो रहा है, जिसमें दिगम्बर जैन युवा संस्था, श्री सनातन धर्म सभा रांझी , सभी सामाजिक संस्थाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इस दौरान सेवा कार्य में प्रमुख रूप से अंकित पटेल, अनुराग तिवारी, पुनीत यादव, दीपक पटेल पिंकू, अनुराग जैन, अनुज जैन, मिक्की जैन, पिंटू जैन, संदीप यादव आदि ने महत्वपूर्ण योगदान दिया।

कोरोना संकट पर ई-महामंच के जरिए खास चर्चा, क्या-क्या दी जाएगी जानकारी, कहां पर जाकर ई महामंच के जरिए कर सकेंगे खास चर्चा, पढि़ए पूरी खबर

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश। जबलपुर। प्रदेश के विश्वसनीय न्यूज चैनल आईबीसी 24 वैश्विक संकट कोरोना को लेकर एक बड़ा संवाद शुरू करने जा रहा है, ये संवाद ई.महामंच के नाम से चैनल के डिजिटल, सोशल फ्लेटफ ार्म में होगा। इसके ज़रिए कोरोना के वर्तमान संकट, उससे जुड़ी समस्याओं, उसकी चुनौतियों और उसके समाधान की बात की जाएगी। ई.महामंच में हर बार किसी एक सेक्टर पर पड़े कोरोना इफेक्ट की बात होगी, जिसके लिए उस सेक्टर के ख्यातिलब्ध हस्तियों को आमंत्रित किया जाएगा । इस दौरान कोरोना के प्रभाव से जुड़े हर पहलू पर चर्चा होगी, साथ ही फेसबुक, यूट्यूब एवं ट्वीटर के ज़रिए आम लोग भी अपने सवाल कर पाएंगे, जिसका एक्सपट्र्स उन सवालों के जवाब देंगे। ये संवाद आईबीसी 24न्यूज चैनल के ऑफि शियल फेसबुक व यूट्यूब चैनल पर लाइव प्रसारित होगा ।


चैनल के सीओओ विवेक पारख के मुताबिक छग-मप्र में आज 3.25 करोड़ से ज़्यादा सब्क्राइबर्स और यूजर्स के साथ आईबीसी24न्यूज चैनल सोशल एवं डिजिटल प्लेटफ ार्म पर नंबर वन बन चुका है, केवल संख्या ही नहीं बल्कि विविधिता, आधुनिकता और कंटेंट के नज़रिए से भी ये सबसे आगे है । इस तरह डिजिटल माध्यम से विज्ञापन देने वालों के लिए भी सबसे प्रभावी मंच बनकर तैयार है । श्री पारख ने प्रदेश की जनता से ये अपील की है कि वो इस ई.महामंच का हिस्सा बने और वैश्विक संकट से संवाद करने में अपने सहभागिता सुनिश्चित करें । ये खुला मंच सबके लिए हैं । इस कड़ी में सबसे पहली चर्चा ब्रमकुमारी शिवानी दीदी से मंगलवार 19 मई शाम 6 बजे होगी।

ये संवाद IBC24न्यूज चैनल के ऑफिशियल FACEBOOK पेज (www.facebook.com/IBC24)और YOUTUBE चैनल (www.youtube.com/c/IBC24InNews) पर लाइव प्रसारित होगा

BREAKING: जबलपुर मे मिले फिर से कोरोना पॉजिटिव मरीज, पढे पूरी जानकारी

इंडिया 2डे न्यूज़(आपके साथ)/जबलपुर – मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब से आज रविवार की शाम मिली 27 सेम्पल की रिपोर्ट्स में चार व्यक्तियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है । इनमें हाजी शमीम उम्र 46 बर्ष, हाजी मकसूद उम्र 63 बर्ष, नबाब बुलन्द खान उम्र 54 बर्ष और 45 साल की आयशा खान शामिल है । इन्हें मिलाकर जबलपुर में कोरोना पॉजिटिव की संख्या अब 181 हो गई है । मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब के अलावा रविवार की शाम आईसीएमआर लैब से भी एक सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जो निगेटिव है ।
हाजी शमीम सूजी मोहल्ला तीन पत्ती के पास रहने वाले हैं । हाजी मकसूद और आयशा खान अल रज्ज़ाक मार्केट के पास बहोराबाग में रहते हैं । आयशा खान पूर्व में पॉजिटिव पाई गई फातिमा खान की बहन हैं । नबाब बुलन्द खान आयशा खान के पति हैं और कई दिनों पहले मण्डला से जबलपुर आये थे और लॉकडाउन की वजह से यहीं रुक गए थे । वे मण्डला के कछेरी मोहल्ला के निवासी हैं ।
नबाब बुलन्द खान 20 मार्च को मण्डला से जबलपुर आये थे । जबलपुर की अब तक की स्थिति :-
# कुल पॉजिटिव – 181
# स्वस्थ हुए – 95
# मृत्यु – 8
# एक्टिव केस। – 78

प्रवासी मजदूरों सेवा करने वाली संस्थाओं की मदद करेगा प्रशासन, रेडक्रॉस के माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएंगी सुविधाएं

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर। तिलवारा टोल नाका से लेकर अंधमूक चौराहे से आगे तक जबलपुर बायपास पर प्रवासी मजदूरों के लिये विभिन्न संगठनों द्वारा की गई भोजन व्यवस्था का आज रविवार की दोपहर कलेक्टर भरत यादव ने नगर निगम आयुक्त आशीष कुमार के साथ जायजा लिया । श्री यादव ने इन संगठनों द्वारा किये जा रहे सेवा के इस कार्य की सराहना की और इसे अनुकरणीय बताया । उन्होंने सभी संगठनों को जिला प्रशासन की ओर से हर संभव सहयोग का आश्वासन देते हुए जरूरत पडऩे पर रेडक्रॉस सोसायटी की ओर से भी मदद करने की बात कही ।
कलेक्टर ने टोल नाकों और चेक पोस्ट पर मौजूद पुलिस कर्मियों से भी कहा कि ट्रक या अन्य साधनों से गुजर रहे प्रवासी मजदूरों के साथ सहानुभूतिपूर्ण व्यवहार करें, उनके भीतर के डर को दूर करें और उनसे सामाजिक संगठनों द्वारा लगाये गये पंडालों पर जाकर भोजन करने के लिये आग्रह भी करें । उन्होंने कहा कि जो मजदूर जबलपुर और इसके आसपास की जिलों में जाना चाहते हैं उन्हें आईएसबीटी तक पहुंचाने की व्यवस्था भी की जाये । श्री यादव ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा प्रवासी मजदूरों को उनके गृह जिले तक पहुंचाने के लिए पर्याप्त संख्या में बसों का इंतजाम किया गया है । उन्होंने कहा कि प्रवासी मजदूरों को आईएसबीटी तक पहुंचाने के लिये सामाजिक संगठनों द्वारा भोजन के लिये लगाये गये पंडालों पर भी बसों के इंतजाम किये जायेंगे । कलेक्टर ने इस दौरान अपने साथ मौजूद नगर निगम के अधिकारियों को भोजन के लिये लगाये गये पंडालों की साफ-सफाई एवं सेनिटाइज करने के लिये नगर निगम का अमला तैनात करने के निर्देश दिये ।
कलेक्टर ने प्रवासी मजदूरों को भोजन कराने के लिये बायपास पर अलग-अलग स्थानों पर नर्मदा मिशन, समाज सेवी कमलेश अग्रवाल तथा सिख समाज और ट्रक ओनर्स एसोशिएशन द्वारा की गई भोजन व्यवस्था का जायजा लिया । इन संगठनों द्वारा भोजन के साथ-साथ ठंडे पानी, बच्चों के लिये दूध और बिस्किट एवं नंगे पैर आने वाले मजदूरों के लिये चप्पलों की व्यवस्था भी की गई है तथा विभिन्न साधनों से गुजर रहे करीब बारह से पन्द्रह हजार मजदूरों को प्रतिदिन भोजन कराया जा रहा है । कलेक्टर द्वारा भोजन व्यवस्था के अवलोकन के दौरान सिख समाज एवं ट्रक ओनर्स एसोशिएशन की ओर से परमवीर सिंह, अमरजीत सिंह, सुरजीत सिंह एवं गुरनाम सिंह भी मौजूद थे ।