रहिए सावधान, करिए सबको सावधान: नहीं तो सैनिटाइजर की बोतल में हो सकता है विस्फोट से बड़ा हादसा

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) देश-दुनिया। एक रिपोर्ट के अनुसार इस समय जब दुनिया कोरोना वायरस महामारी से लड़ रही है। लोग वायरस को दूर रखने के लिए हर तरीके के एहतियात बरत रहे हैं। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हैंड सैनिटाइजर एक महत्वपूर्ण औजार है। लोग कार में भी सैनिटाइजर रख रहे हैं। देश और दुनिया के कई हिस्सों में गर्मी बढ़ती जा रही है। तापमान में इजाफा हो रहा है। ऐसे में एक बड़ा सवाल यह भी है कि धूप में खड़ी कार में सैनिटाइजर के बोतल में विस्फोट हो सकता है?

हाल ही में अमेरिका के विनकंसिन में फायर डिपार्टमेंट ने एक अडवाइजरी जारी करते हुए लोगों को सचेत किया। अथॉरिटी ने एक क्षतिग्रस्त कार की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि कार के अंदर रखे सैनिटाइजर बोतल में विस्फोट होने से यह नुकसान हुआ है। पोस्ट में लिखा गया था कि अधिकतर सैनिटाइजर्स एलकोहल बेस्ड होते हैं इसलिए ये ज्वलनशील होते हैं और गर्म मौसम धूम में खड़ी कार में यदि सैनिटाइजर को छोड़ दिया जाए तो विस्फोट की संभावना रहती है। हालांकि, बाद में इस पोस्ट को हटा लिया गया और स्पष्टीकरण दिया गया। लेकिन इससे वाहन मालिक यह जरूर सोचते रह गए कि सच क्या है।

आमतौर पर भारत में बिकने वाले सैनिटाइजर्स में एलकोहल की मात्रा 40 पर्सेंट कम होती है। कुछ ब्रैंड्स में एलकोहल की मात्रा 70 फीसदी से अधिक होती है। ऐसी वस्तु में आग या अधिक गर्मी की वजह से विस्फोट हो सकता है और यह काफी नुकसान पहुंचा सकता है। यहां तक की पूरी कार भी जल सकती है। पहले भी कई बार कार में बॉडी स्प्रे और कार क्लीनिंग केमिकल में विस्फोट के मामले आ चुके हैं।

70 फीसदी एलकोहल वाला सैनिटाइजर काफी ज्वलनशील होता है और इसका रखरखाव बेहद सावधानी पूर्वक करने की जरूरत है। यदि इसे धूप या गर्मी में अधिक समय तक रखा जाए तो इसमें वास्प बनने लगता है और कंटेनर के भीतर दबाव बढ़ने लगता है। इससे विस्फोट और नुकसान हो सकता है। हालांकि, आग पकड़ने के लिए चिंगारी की आवश्यकता है।

यूएस फायर एजेंसी द्वारा दिखाए गए वाहन में सैनिटाइजर्स से आग कैसे लग गई यह कहना मुश्किल है, लेकिन सबक सीखना महत्वपूर्ण है कि इस तरह के ज्वलनशील वस्तु को कार में छोड़ना नुकसानदायक हो सकता है। हालांकि, इस महामारी से बचने के लिए सैनिटाइजर्स को साथ रखना जरूरी है, लेकिन इसे सावधानी के साथ रखें तो यह वायरस से बचाएगा और कोई नुकसान भी नहीं होगा।

जेल प्रशासन ने की वादाखिलाफी, बेरोजगारी की मार झेल रहे युवा, घर-परिवार चलाना हो रहा मुश्किल, आ गई सड़क पर आने की नोवत

इंडिया 2डे न्यूज(आपके-साथ) मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के दर्जनों युवा इन दिनों बेरोजगारी की मार झेल रहें हैं, जिनके घर पर खाने के लाले पड़ गए हैं, वह रोजी और रोटी दोनों के लिए मुहताज हो गए हैं, जिससे वह अब इन दिनों अपनी जिंदगी को एक तरफ कुआं तो वहीं दूसरी तरफ खाई की तरह समझ रहें हैं, अब ऐसे में ऐसे युवा सरकार से शीघ्र ही मदद की अपील कर रहें हैं, ताकि उनकी सुनवाई हो सके और वह वापस अपनी नोकरी कर सकें। दरअसल यह सभी दर्जनों की संख्या में बेरोजगारी की मार झेल रहे युवा मध्यप्रदेश जेल के तुगलकी फरमान की वजह से बेरोजगार हैं, जिनसे जुड़े घर व उनके परिवार भी मानों सड़क पर आ गए हैं, जिनको नोकरी पर रखे जाने का वादा करके जेल प्रशासन ने वादा खिलाफी कर दी है। इस संबंध का आरोप पीड़ितों ने लगाया है और शीघ्र ही उन्हें नोकरी पर वापस रखने की मांग करते हुए लॉक डाउन के उपरांत उग्र आंदोलन करने सहित अन्य आक्रामक कदम उठाए जाने की भी चेतावनी जेल प्रशासन को दी है।

इस संबंध में पीड़ितों ने बताया कि उच्च न्यायालय जबलपुर के निर्देशानुसार मध्यप्रदेश की सभी सर्किल जेल, जिला जेल, सब जेल पर विचारधीन बंदियों की समस्त पेशियाँ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कराई जानी है। जेल मुख्यालय के पत्र क्र. 17062/आधुनिकीरण201/19 भोपाल दिनाक 28/12/2018 के माध्यम से सभी जेलों पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए तकनीकी सुपरवाइजर(आऊट सोर्सिंग) के माध्यम से उपलबंध कराने के निर्देश दिए गये है। जेल मुख्यालय के पत्र क्र. 3043/आधुनिकीरण/19 भोपाल के द्वारा तकनिकी सुपरवाइजर नियुक्त किया गया है।
जेल विभाग के द्वारा दिनाक 28/01/2020 बिना सूचित किये 29/01/2020 को 126 पूरे म.प्र जेल के तकनीकी सुपरवाइजर(आउट सोर्सिंग) को जेल अधीक्षक के द्वारा भार मुक्त कर दिया, जिससे पूरे राज्य की जेलों के 126 तकनिकी सुपरवाइजर एकत्रित होकर जेल प्रशासन के इस निर्णय का विरोध कर रहे हैं।

 

जिसके चलते यह सभी जेल मुख्यालय के समक्ष अपनी बात रखने गये, तब मुख्यालय के अधिकारियो के द्वारा कहा गया कि वेंडर परिवर्तित होते ही तमाम लोगो को पुनः कार्य पर रखा जाएगा और पुनः उनका बकाया दो माह का वेतन भी जल्द से जल्द दिया जाएगा, जिसके लिए कभी हफ्ते भर, कभी 10दिन, कभी 15दिन का समय बोला गया, लेकिन अभी दो महीने बाद न ही उनको वेतन मिला और न ही उन्हें पुनः कार्य पर रखा गया। वहीं उन्होंने बताया कि वह सभी विभाग द्वारा दिए गए आश्वासन पर ही इतने समय से घर पर बैठे हैं जिससे वह सभी पूरी तरह से बेरोजगार तो हो ही गए हैं, साथ ही लॉक डाउन के कारण आर्थिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। जिससे समस्त तकनीकी सुपरवाइजर बहुत परेशान हैं और दाने-दाने को मोहताज हैं।

जिसने भी फैलाई है कर्फ्यू लगने की अफवाह, उस पर पुलिस की पैनी नजर, होगी जल्द कार्यवाही

👉🏿 जबलपुर में दिनांक 23 मई से 03 दिन के लिये कर्फ्यू लगाने की बात सरासर गलत,
👉🏿 अफवाह फैलाने वालों की पतासाजी कर रही है जबलपुर पुलिस, की जायेगी सख्त कार्यवाही,

 

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर। यह सरासर गलत एवं निराधार है कि जबलपुर में दिनांक 23 मई 2020 से 03 दिन के लिये कर्फ्यू अर्थात कम्पलीट लाॅकडाउन रहेगा, मेडीकल स्टोर के अलावा किसी भी प्रकार की कोई दुकान नहीं खुलेंगी। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने कहा कि जबलपुर में 03 दिन के लिये कर्फ्यू लगाने की बात पूर्णतः असत्य एवं निराधार है, इस प्रकार की अफवाह आमजन में फैलाने वालों एवं शहर की फिजा बिगाड़ने वालों के सम्बंध मे पतासाजी हेतु सायबर सेल की टीम को एवं सादे कपड़ों में पुलिस स्टाफ को लगाया गया है, अफवाह फैलाने वालो के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जावेगी, कृपया अफवाहों पर ध्यान न दें, रोजाना की तरह ही, व्यवस्थायें रहेंगी । जबलपुर संस्काधानी के लोग इस कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण रूपी महामारी में भी एक दूसरे का सहयोग करते हुये इस संकट की घड़ी में भी बेहतर ढंग से जीवन जी रहे हैं।

सोशल नेटवर्किंग साईट, जैसे फेस बुक, वाट्सअप, ट्यूटर के माध्यम से असामाजिक/विध्नसंतोषी तत्वों द्वारा  आपत्तिजनक/भड़काउ पोस्ट एवं मैसिज भेजे जाते है, यह एक संज्ञेय अपराध है। आम नागरिकों से अपील की है कि इस प्रकार के वीडियो फुटेज एंव मैसिज को किसी और से न ही शेयर करें, न ही लाईक करें, कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु संस्कारधानी के एक जिम्मेदार नागरिक का परिचय देते हुये सोशल मीडिया मे पोस्ट की गयी  किसी भी पोस्ट की पुष्टि सम्बंधित थाना प्रभारी/नगर पुलिस अधीक्षक/अति. पुलिस अधीक्षक से करते हुये यदि आपको लगता है कि की गयी पोस्ट आपत्तिजनक/भड़काउ है तो इसकी सूचना तत्काल अपने सम्बंधित थाने को दें ताकि उसके विरूद्ध विधिसम्मत कार्यवाही की जा सके, किसी के बहकावे मे आकर अथवा किसी अफवाह के आधार पर एैसा कोई कदम न उठायें जिससे तनाव की स्थिति निर्मित हो।

जबलपुर की सायबर टीम के द्वारा निरंतर निगाह रखी जा रही है। सबंधित थाना प्रभारियो को नियमानुसार कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया हेंै। आपत्तिजनक  वीडियो फुटेज शेयर करने पर यदि कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित हुई तो सम्बंधित के विरूद्ध एन.एस.ए. की कार्यवाही की जावेगी।

 

कर्फ्यू की अफवाह फैलाने वालों पर होगी कार्यवाही.:-

जबलपुर  जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर भरत यादव ने शहर में कर्फ्यू लगाये जाने की फैलाई जा रही अफवाहों का खण्डन किया है । श्री यादव ने कहा कि अफवाह फैलाने वालों पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी ।
कलेक्टर ने नागरिकों से भी आग्रह किया है कि सोशल मीडिया या अन्य माध्यमों पर इस तरह की भ्रामक सूचना फैलाने वाले तत्वों की सूचना तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम को दें ताकि उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जा सके ।

हुआ बड़ा हादसा: इंटरनेशनल एयरलाइंस का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) देश-दुनिया। पाकिस्तान के कराची के रिहाइशी इलाके में पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में यात्री और आठ क्रू मेंबर सहित 107 लोग सवार थे। मिल रही जानकारी के मुताबिक सभी लोगों की मौत हो गई। जिस कॉलोनी में जहाज गिरा वहां कई घरों और सड़क पर खड़े वाहनों में आग लग गई।

पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार कराची के जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास स्थित मॉडल टाउन इलाके के निकट विमान लैंडिंग से ठीक पहले हादसे का शिकार हो गया। विमान दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद कॉलनी में धुएं का गुबार देखा गया। हादसे के तुरंत बाद राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। पीआईए प्रवक्ता अब्दुल सत्तार ने हादसे की पुष्टि करते हुए कहा कि विमान लाहौर से कराची आ रहा था।

दोनों इंजन फेल हुए : बताया जा रहा है कि कराची में लैंड करने से पहले पीआईए के ए-320 विमान के दोनों इंजन फेल हो गए थे। जहाज 15 वर्ष पुराना था। जहाज का 2.37 बजे अंतिम बार एटीसी से संपर्क हुआ था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हादसे पर दुख जताया है और दुर्घटना को लेकर जांच के आदेश दिए हैं।

फुटेज में दुर्घटनास्थल से धुएं के गुबार उठते दिखाई दिए। निवासियों की मदद के लिए एंबुलेंस और बचाव अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के एक बयान में कहा गया कि सेना की त्वरित प्रतिक्रिया बल और सिंध पाकिस्तान रेंजर्स नागरिक प्रशासन के साथ राहत और बचाव के प्रयासों के लिए साइट पर पहुंचे।

आपको बता दें कि इसी साल जनवरी में अफगानिस्तान के पूर्वोत्तर गजनी प्रांत में सोमवार को स्थानीय समय के अनुसार दोपहर करीब डेढ़ बजे सरकारी एयरलाइंस कंपनी एरियाना अफगान का विमान क्रैश हो गया गया था। स्थानीय मीडिया ने यह खबर दी थी कि विमान में कम से कम 80 लोग सवार थे, जबकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में इसमें 100 लोगों के सवार होने की बात कही थी।

अम्फान तूफान ने मचाई भीषण तबाही

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) देश-विदेश। 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाले अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में बड़ी तबाही मचाई है. पश्चिम बंगाल में तो तूफान से 10 से 12 लोगों के मारे जाने की खबर है. कोलकाता के कई इलाकों में पानी भर गया है. तूफान का असर कोलकाता एयरपोर्ट पर दिखाई दे रहा है. यहां चारों तरफ पानी भरा हुआ है.

6 घंटे के तूफान अम्फान की तेज हवाओं ने कोलकाता एयरपोर्ट को क्षतिग्रस्त कर दिया. हर तरफ पानी भरा हुआ है. रनवे और हैंगर पानी में डूबे हैं. एयरपोर्ट के एक हिस्से में तो कई इंफास्ट्रक्चर पानी में डूबे है. अम्फान के कारण एयरपोर्ट पर सभी परिचालन आज सुबह 5 बजे तक बंद कर दिए गए थे, जो अभी भी बंद हैं.

कोलकाता एयरपोर्ट पर यात्री उड़ानें 25 मार्च से ही निलंबित है. केवल कार्गो और वंदे भारत मिशन के तहत आने-जाने वाली उड़ानें चल रही थी. उन्हें भी अभी रोक दिया गया है. गौरतलब है कि बंगाल में समुद्र तट से टकराने के वक्त अम्फान तूफान की रफ्तार 180 किमी प्रति घंटे से ज्यादा गो गई थी.

कई घंटे बाद तक कोलकाता शहर में 130 किमी प्रति घंटे की तक की रफ्तार से हवाएं चलती रहीं. अम्फान का सबसे ज्यादा कहर पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना, दक्षिणी 24 परगना, मिदनापुर और कोलकाता में रहा. तूफान के टकराने के वक्त दीघा में सीधे खड़े हो पाना भी मुमकिन नहीं था.

पश्चिम बंगाल में तूफान से तबाही कितनी हुई इसका हिसाब किताब अभी बाकी है, लेकिन मुख्यमंत्री ममत बनर्जी कह रही हैं कि कम से कम 10-12 लोगों की मौत हुई है. इसमें से अधिकतर मौतें पेड़ गिरने के कारण हुई हैं. वहीं, ओडिशा में तीन लोगों के मारे जाने की खबर है. दोनों प्रदेशों में राहत और बचाव कार्य जारी है.

त्रिपुर सुंदरी माता मंदिर परिसर में लगी भीषण आग, कई दुकानें जलकर हुई खाक, लाखों का समान भी जला

इंडिया 2डे न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/जबलपुर। भेड़ाघाट मार्ग तेवर में स्थित प्राचीनकालीन माता त्रिपुर सुंदरी के मंदिर परिसर में लगी एक दर्जन से अधिक दुकानों में देर रात्रि आग लग गई। जिससे दुकानों में रखा लाखों रुपये का समान जलकर खाक हो गया। घटना की जानकारी जैसे ही दमकल विभाग को दी गई तो उन्होंने ने तत्काल में ही घटना स्थल में पहुंच कर आग को बुझाने का अथक प्रयास किया।

दुकानों में आग लगने की सूचना मिलते ही दुकान मालिक और पुजारी भी देर रात को मौके पर पहुंच गए। उन्होंने तुरंत ही इसकी सूचना दमकल विभाग को दी, जिसके बाद भेड़ाघाट नगर पंचायत और जबलपुर नगर निगम के दमकल विभाग की गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू किया। आग इतनी भीषण थी कि फायर ब्रिगेड कर्मचारियों को इस पर काबू पाने के लिए कड़ी मशक्कत करना पड़ी, बताया गया है कि दुकानों के पीछे लगी झाड़ियों में किसी ने आग लगाई थी, जो बढ़ते-बढ़ते दुकानों तक पहुंच गई। जिससे इतना भयानक हादसा हो गया।

पेट्रोल और डीजल की इस तरह से हो रही थी चोरी, पुलिस ने की बड़ी कार्यवाही

टैंकरों से डीजल एंव पैट्रोल चोरी कर बेचने वाले ढाबा संचालक सहित 3 आरोपी गिरफ्तार ,टैंकर एवं ड्रमों में भरा हुआ लगभग 15 हजार लीटर डीजल, 4 हजार लीटर पैट्रोल, 4500 लीटर कैरोसिन, तथा 1 हजार लीटर की 3 टंकी , 32 ड्रम 200 लीटर वाले, 3 मोटर पंप, प्लास्टिक की पाईप आदि जप्त

इंडिया 2डे  न्यूज (आपके-साथ) मध्यप्रदेश/ जबलपुर।पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा  शराब, मादक पदार्थ  एवं रेत के अवैध उत्खनन तथा  ढाबों में अवैध रूप से ज्वलनशील पदार्थ डीजल, पैट्रोल के अवैध कारोबार में लिप्त लोगों को चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है।
आदेश के परिपालन में अति. पुलिस अधीक्षक अपराध डाॅ. रायसिंह नरवरिया, द्वारा क्राईम ब्रांच की टीम को एवं अति. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह बघेल द्वारा सभी देहात थाना प्रभारियों को पतासाजी कर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया।


आज दिनाॅक 17-5-2020 को क्राईम ब्रांच की टीम को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि भेडाघाट तिराहा निवासी मनीष सोनी, एनएच 7 रोड रामपुर मे एस.आर. पैट्रोलपंप के पास माॅ शारदा नाम से ढाबा चलाता है, ढाबे के पीछे खुला जंगल है, जहाॅ पर पैट्रोल डीजल एवं मिट्टी के तेल की टैंकरों से कटिंग कर अवैध रूप से बेचता है, सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये वरिष्ठ अधिकारियों के मार्ग निर्देशन में क्राईम ब्रांच एवं थाना गोसलपुर पुलिस की टीम के द्वारा योजनाबद्ध तरीके से माॅ शारदा ढाबा में  दबिश देते हुये मनीष सोनी उम्र 34 वर्ष निवासी भेडाघाट तिराहा एवं मनीष सोनी के यहाॅ रहकर डीजल पटैाल कटिंग का काम करने वाला लोकमन पटेल उम्र 46 वर्ष निवासी बमरा हिनौता भेडाघाट तथा टैंकर चालक श्रीकांत यादव उम्र 29 वर्ष निवासी मनगवाॅ रीवा को रंगे हाथ टैंकर एमपी 20 जीए 6691 से पैट्रोल एवं डीजल निकालते हुये पकड़ा गया, टैंकर के 3 कम्पार्टमेंट में डीजल एवं 1 कम्पार्टमेंट में पैट्रोल भरा हुआ है, उक्त टैंकर के आसपास 3 टैंकर जिसका रजिस्ट्रेशन नम्बर एमपी 19 ए 2293 , एमपी 21 जी 0882, एवं एमपी 20 बी 4337  खडे मिले , ढाबे के पीछे खाली मैदान मे रखे ड्रमों में डीजल एवं कैरोसिन भरा हुआ था, टैंकर एवं ड्रमों में भरा हुआ लगभग  15 हजार लीटर डीजल, 4 हजार लीटर पैट्रोल, 4500 लीटर कैरोसिन, एवं 1 हजार लीटर की 3 टंकी , 32 ड्रम 200 लीटर वाले, 3 मोटर पंप, प्लास्टिक की पाईप आदि जप्त करते हुये आरोपियों के विरूद्ध थाना गोसलपुर में धारा 379, 420,285,188 भादवि, एवं 41(1-4) जा.फौ. के तहत कार्यवाही करते फरार टैंकर चालकों की तलाश जारी है।

उल्लेखनीय भूमिका- आरोपियों को रंगे हाथ गिरफ्तार करने मंेे एस.डी.ओ.पी. सिहोरा श्रीमति भावना मरावी के नेतृत्व में क्राईम बं्रांच के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, प्रमोद पाण्डे, आरक्षक रामगोपाल विश्वकर्मा, राममिलन चक्रवर्ती, रामसहाय कुशवाहा, महेन्द्र पटेल, खुमान सिंह, प्रेमलाल विश्वकर्मा, बीरबल, तथा थाना प्रभारी गोसलपुर परिवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक सुश्री पूजा पटेल, उप निरीक्षक सतीष तिवारी, लिखनलाल पटले, सउनि राजू चैधरी, आरक्षक सत्येन्द्र, अवधेश, समर, नेमचंद, एलडक, भरत अवस्थी की सराहनीय भूमिका रही।

मजदूरों को लेकर जा रहा ट्रक पलटा, कई घायल, तो कईयों की हुई मौत

सागर : ट्रक दुर्घटना की तीसरी खबर आ रही है. इस बार हादसा मध्य प्रदेश के सागर में हुआ है. एमपी के दलबतपुर में मजदूरों को लेकर जा रही एक ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गई. इस हादसे में 5 मजदूरों की मौत हो गई है, जबकि 20 मजदूर घायल हो गए हैं. प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और राहत और बचाव का काम शुरू कर दिया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक ये दुर्घटना सागर से छतरपुर की ओर जा रहे ट्रक के पलटने से हुई है. इसमें हादसे में 20 लोग घायल बताए हुए हैं. घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना की जानकारी मिलते ही सागर और छतरपुर दोनों जिलों का पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है.

बता दें कि ये एक दिन में तीसरी ट्रक दुर्घटना है. शनिवार की सबसे बड़ी ट्रक दुर्घटना यूपी के औरैया में हुई. यहां रात 3.30 बजे सड़क के किनारे खड़ी मजदूरों से भरी एक ट्रक को दूसरी ट्रक ने टक्कर मार दी. इस घटना में 24 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि 15 से 20 मजदूर घायल हो गए हैं.

ट्रक हादसे की दूसरी घटना महाराष्ट्र तेलंगाना के बॉर्डर पर राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर हुई है. यहां लगभग 70 मजदूरों को लेकर आ रहा एक ट्रक रात के 3.30 बजे पलट गया. इस घटना में 20 मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

MP Update : भोपाल में पूर्व विधायक कोरोना पॉजिटिव, रोज बांट रहे थे लोगों को खाना

इंडिया 2डे न्यूज़ (आपके साथ)/ मध्यप्रदेश/भोपाल में हुजूर विधानसभा से पूर्व विधायक जितेंद्र डागा की रिपोट कोरोना पॉजिटिव आई है। इनके यहां रसोई में खाना बनकर भोपाल के अलग-अलग क्षेत्रों में हजारों लोगों को बांटा जा रहा था। कुछ समय पहले ये दिग्विजय सिंह से भी मिले थे। कटनी जिले के रीठी में मजदूरों से भरी एक बस पलट गई, हादसे में कोई घायल नहीं हुआ है। देवास में सात नए कोरोना पॉजिटिव मरी‍ज मिले हैं। इंदौर की जबरन कॉलोनी में एक ट्रांसफार्मर में आग से पास खड़े कुछ वाहन जलकर खाक हो गए। विशेष श्रमिक ट्रेन 1170 मजदूरों को लेकर खंडवा पहुंची। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3510 के ऊपर पहुंच चुकी है। यहां अब तक इससे 182 लोगों की मौत हो चुकी है और 979 लोग स्वस्थ होकर लौट चुके हैं। इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1858 पहुंच गई है।